मुर्गी पालन के लिए यह 3 नस्लें, जो आपको बना देगा लखपति

Desi Poultry Farming Business: नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे आज के इस पोस्ट में। मैं आशा करती हूं कि आप सभी बहुत अच्छे होंगे। मुर्गी पालन में भारत विश्व में अग्रणी देशों में आता है। अमेरिका और चीन के बाद भारत अंडा उत्पादन में तीसरे स्थान पर आता है और मांस उत्पादन में पांचवा स्थान पर है। पुराने समय से ही हमारे देश में देसी मुर्गी पालन किया जाता है।

मुर्गी पालन का बिजनेस एक ऐसा बिजनेस है जिसे किसान छोटे लेवल से 10 से 15 मुर्गियों का पालन करके शुरू कर सकते हैं। मुर्गी पालन के बिजनेस को आप अपने घर मैं आ छोटी सी जमीन लेकर शुरू कर सकते हैं।

आज के इस पोस्ट में हम बताने वाले हैं तीन देसी मुर्गियों के नस्ल जो आपको लखपति बना देंगे। तो आप हमारे इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक जरूर पढ़ें।

1. श्रीनिधि नस्ल

श्रीनिधि नस्ल की मुर्गियां बहुत ही जल्दी विकसित हो जाती है इन मुर्गियों के अंडे और मार से आप बहुत अधिक मात्रा में मुनाफा अर्जित कर सकते हैं। यह मुर्गी बहुत ही कम समय में अच्छा खासा मुनाफा देती है।

अगर आप अपने घर में 10 से 15 मुर्गियां रखकर इस बिजनेस की शुरुआत करते है इसके लिए आपको 40 से 50 हजार इन्वेस्ट करने की जरूरत है। जब यह मुर्गी पूरी तरह से विकसित हो जाती है तो आप इन्हें मार्केट में बेचकर दोगुना मुनाफा प्राप्त कर सकते हैं।

2. वनराजा नस्ल

वनराजा नस्ल प्राचीन नस्ल है। इन मुर्गियों का मांस बहुत ही कम चर्बी वाला और बहुत ही ज्यादा स्वादिष्ट होता है। वनराजा नस्ल के मुर्गियों को देसी मुर्गियों में सबसे अच्छा माना जाता है। यह मुर्गी हर साल 120 से 150 घंटे तक देती है। इन मुर्गियों का वजन दो से 4 किलो का होता है।

3. ग्रामप्रिया नस्ल

इस नस्ल की मुर्गियों का अंडा भूरे रंग का होता है। इस मुर्गी का इस्तेमाल तंदूरी डिश बनाने में किया जाता है। या मुर्गी 1 साल में 210 से 230 अंडे देने की क्षमता रखती है और इसके अंडे का वजन 57 से 60 ग्राम होता है। आप इसे अपने घर में या बगीचे में पाल सकते हैं। इस मुर्गी का वजन 12 सप्ताह में डेढ़ से 2 किलोग्राम होता है।

निष्कर्ष

आज के इस पोस्ट में हमने आपको के तीन देसी मुर्गियों के नस्ल बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों और फैमिली के साथ शेयर जरूर करें। तो दोस्तों आज के लिए बस इतना ही मिलते हैं अगले पोस्ट पर तब तक Lots of love Jharna Chaudhary

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *